• प्रिय किसान भाइयों , गन्ना प्रजाति 0238 एवं 0239 की बढ़वार बहुत अच्छी है । इसलिए इसको गिरने से बचाने के लिए बंधाई अवश्य करायें । नोट - किसान भाई अपने सट्टे की जानकारी के लिए टोल फ्री नम्बर 18001805251 पर डायल करें , कृषक कोड के लिये (ग्राम कोड # कृषक कोड #) का प्रयोग करें । पारले
क्यू एम एस नं0: 9554955955 आई वी आर एस: 1800 180 5251 अपडेट तिथि: 27-Mar-2017

त्वरित प्रश्नावली

प्र्0 - एस0 आइ0 एस0 क्या है। 
उ0 - पेराई सत्र 2010-11 मे गन्ना किसानो की सुविधा के लिए गन्ना सूचना प्रणाली (एस0 आई0 एस0 ) का प्रारम्भ किया गया। इसके अन्तर्गत चीनी मिलो की वेवसाइट, आई0वी0आर0एस0, एस0एम0एस0, क़्यु0एम0एस0 तथा क्रय् केन्द्रो पर हैंड हेल्ड कम्प्युटर की व्यावस्था लागू करायी गयी ।
 
प्र्0 - आई0वी0आर0एस0 क्या होता है ।
उ0 - आई0वी0आर0एस0 एक ऐसी प्रणाली है जिसके द्रारा कोई भी गन्ना किसान सम्बन्धित मिल से अपने मोबाईल या टेलीफ़ोन के द्रारा गन्ने से संबन्धित सूचनाए किसी भी समय प्राप्त् कर सकता है । यह प्रणाली रेलवे की पूछताछ प्रणाली की ही तरह कार्य करती है ।
 
प्र्0 - आई वी आर एस से क्या-२ जानकारी प्राप्त की जा सकती है
उ0 - इस आई वी आर एस के नंबर पर फ़ोन करके सर्वे सट्टा, कैलेंडर, सोसाइटी पर्ची, तौल तथा भुगतान से सम्बंधित सूचनाये प्राप्त कर सकता है
 
प्र्0 - आई0वी0आर0एस0 (IVRS) से कौन लाभ उठा सकता है ?
उ0 - कोई भी कृषक जो गन्ना समिति का वैधानिक सदस्य हो।
 
प्र्0 - एस0एम0एस0 (SMS) किन लोगों को भेजा जाता है ?
उ0 - समस्त कृषकों को जो गन्ना समिति के वैधानिक सदस्य हैं और उनका मोबाइल न0 चीनी मिल के कम्पयूटर में दर्ज है।
 
प्र0 - मोबाईल नं0 कॅसे दर्ज करायें ?
उ0 - चीनी मिल में स्थापित पूछताछ कार्यालय में अथवा अपने क्षेत्र से सम्बन्धित गन्ना पर्यवेक्षक को देकर भी दर्ज करा सकते है
 
प्र्0 - एस0एम0एस0 क्या है
उ0 - इस प्रणाली के अन्तर्गत चीनी मिल द्रारा गन्ना किसानो को समय-समय पर पर्ची,भुगतान आदि से संबन्धित सूचना उनके द्वारा रजिस्टरड कराये गये मोबाईल पर मेसेज द्रारा दी जाएगी।
 
प्र्0 - एस0एम0एस0 (SMS) किन लोगों को भेजा जाता है ?
उ0 - समस्त कृषकों को जो गन्ना समिति के वैधानिक सदस्य हैं और उनका मोबाइल न0 चीनी मिल के कम्पयूटर में दर्ज है।
 
प्र्0 - गन्ना आपूर्ति के साधन को परिवर्तित कराने के लिये क्या करें ?
उ0 - इसके लिये कृषक भाई अपने गन्ना समिति में सचिव के नाम एक प्रार्थना पत्र देकर आपूर्ति साधन परिवर्तित करा सकते हैं।
 
प्र्0 - गन्ना समिति का सदस्य कौन बन सकता है ?
उ0 - गन्ना समिति के क्षेत्रांतर्गत कोई भी व्यक्ति जिसके नाम कृषि योग्य भूमि हो तथा वह गन्ने की खती करता हो ।
 
प्र्0 - गन्ना आपूर्ति टिकट पर निर्धारित अवधी में कतिपय कारणों वश गन्ना आपूर्ति न होने पर क्या करें ?
उ0 - इसके लिए गणना आपूर्ति टिकट के साथ समिति कार्यालय में उक्त विषयक प्राथना पत्र के साथ संपर्क करें इसक उपरांत गन्ना समिति द्वारा नियमानुसार उक्त आपूर्ति टिकट के एवज में दूसरी आपूर्ति टिकट निर्गत की जाएगी ।
 
प्र्0 - यदि कृषक का गन्ना क्षेत्रफल गलत अंकित है तो क्या करना होगा ?
उ0 - कृषक अपने क्षेत्र से संबंधित गन्ना पर्यवेक्षक से सम्पर्क करके पुन: जांचोपरान्त गन्ना क्षेत्रफल ठीक करा सकता है।
 
प्र्0 - सहकारी गन्ना विकास समिति का सदस्य बनने के लिये क्या करें ?
उ0 - समिति सदस्य बनने के लिये भूअभिलेखों की खतौनी, स्वंय के तीन पासपोर्ट साइज फोटो, बैंक पासबुक की प्रमाणित फोटो प्रति, गन्ना क्षेत्रफल से संबंधित घोषणा पत्र संलग्न करते हुये सचिव, सहकारी गन्ना विकास समिति के नाम प्रार्थना पत्र प्रस्तुत करें। अग्रेतर समिति द्वारा प्रस्तुत अभिलेखों की जांचोपरान्त वैधानिक शुल्क जमा कराकर गन्ना सट्टा नीति के अनुसार समिति सदस्यता प्रदान कर दी जायेगी। कृषक भाई विस्तृत जानकारी के लिये अपने क्षेत्र से संबंधित गन्ना पर्यवेक्षक अथवा गन्ना समिति कार्यालय में सम्पर्क कर सकते हैं।
 
प्र्0 - बैंक खाता संख्या परिवर्तित कराने के लिये क्या करें ?
उ0 - इसके लिये जिस बैंक शाखा में पूर्व में खाता खुला था, उससे अनापत्ति प्रमाण पत्र प्राप्त कर, नये बैंक खाता पासबुक की प्रमाणित प्रति के साथ संबंधित गन्ना समिति से सम्पर्क कर अपनी बैंक खाता संख्या परिवर्तित करा सकते हैं।
 
प्र्0 - जले गन्ने की आपूर्ति हेतु क्या करें ?
उ0 - सर्वप्रथम कृषक भाई संबंधित थाने में प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज करायें, तदुपरान्त उसकी प्रतिलिपि के साथ संबंधित समिति कार्यालय में एक प्रार्थना पत्र प्रस्तुत करें। समिति कार्यालय द्वारा जले गन्ने का सर्वेक्षण कराकर नियमानुसार गन्ना आपूर्ति टिकट निर्गत किये जायेगें।